Facebook के बारे मे 27 रोचक बातें

Facebook एक बहुत बडा social networking site है यहा पर करोडो लोगो का जमावडा है। विश्व भर मे सबसे ज्यादा लोग facebook social networking site पर एक्टिव रहते है। तो आइए आज facebook के बारे मे कुछ रोचक बातें जाने ।

facebook ke bare me rochak bate

√. facebook के बारे मे कुछ रोचक बातें में facebook कि स्थापना 2004 मे हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के एक छात्र मार्क जुकरबर्ग ने किया था। उस समय facebook का नाम The facebook रखा गया था। सर्वप्रथम कालेज मे यह बेहद प्रसिध्द हुआ फिर धीरे – धीरे पूरे यूरोप मे फेसबुक का डंका बजने लगा। करीब agust.2005 मे इसका नाम बदल कर facebook कर दिया गया।

√. facebook मे इनका भी योगदान रहा है डस्टिन माँस्कोविट्स (सह संस्थापक ) सैरिल सैडबर्ग (मुख्य प्रचा. अधि. ) मैट कोल्हर (प्रोडक्ट मैनेजमेन्ट के उपाध्यक्ष ) व क्रिस क्रिस ह्यूजेज (सह संस्थापक)

√. facebook पर हर तरह कि भाषा करीब 90 भाषाओ मे इसे हम पा सकते है जिससे इसको यूज करने मे बेहद आसानी व सरल होता है।

√. क्या आप जानते है कि facebook पेज सिर्फ नीले कलर को ही बैकग्राउड के रूप मे क्यो रखता है ? क्योकी फेसबुक के संस्थापक महोदय मार्क जुकरबर्ग को कलर विजन है और उन्हे हरे और लाल रंग मे कोई अन्तर नजर ही नही आता केवल नीले रंग मे ही उन्हे आसानी थी इस कारणवश facebook का बैकग्राउड नीले रंग का होता है।

√.facebook ने india समेत करीब 40 देशो के मोबाईल सेवा प्रदान करने वाली हर कम्पनीयो से यह डिल पक्की कर रखी है कि facebook नामक एक नई साईट का उपयोग बिल्कुल मुफ्त मे होगा। यह जाल नेटवर्क फेसबुक का पाठ्य संस्करण है।

√. यदि फेसबुक एक देश होता तो तकरिबन चीन , भारत , अमेरिका , इण्डोनेशिया के बाद ही पाँचवा सबसे बडा देश होता।

√. facebook पर यह सुविधा भी है कि आप अपनी सुविधा के तहत किसी भी व्यक्ति को अपनी मर्जी से ब्लाक भी कर सकतें हैं। परन्तू आप फेसबुक से कभी भी मार्क जुकरबर्ग को ब्लाक नही कर सकते कोशिश करने पर आपको error का मैसेज ही प्राप्त होगा। ये facebook के बारे मे कुछ रोचक बातें hindipe site पर पढ़ रहे हैं |

√. जुकरबर्ग ने पहले facebook के like बटन का नाम awesome” आसम ” रखना चाहता था पर बाद मे like ही रखा गया क्योकी क्सी ने भी उनकी बात पर ध्यान नही दिया और like ही पसंद किया था।

√. पुरे दुनिया मे जितने भी लोग internet यूज कर रहे है उनमे से हर दुसरे के पास facebook account जरूर है। यानी कि दुनीया मे सभी internet यूजर्स के 50% लोग फेसबुक का इस्तेमाल करते है।

√. पर आश्चर्य कि मार्क जुकरबर्ग को सैलरी के रूप मे 1 डालर मिलता है।

√. facebook पर 83% वैश्याओ के पेज और करोडो दिवानो कि लिस्ट है।

√. अगर आप अपने फेसबुक अकाउट को आन कर के या log in कर के internet पर कुछ भी करते है वह सब जानकारिया facebook के पास होती है कि आप कब क्या -क्या कर रहे है तो जरा सम्भल के प्रयोग करिए।

√. आपको शायद अजीब लगे पर facebook पर जो पोक (poke) होता है उस को facebook टीम भी नही जानती कि क्यो लगाया गया है और यह सबसे ज्यादा उपयोग भी होने लगा जिस कारण इसे निकाला नही गया। और हाँ याद रहे अगर आप पोक (poke) का अत्यधिक प्रयोग करेगे तो facebook आप कि file या account को ब्लाक (block) कर देगा।

√. 1 मिनट के लिए भी facebook का server डाउन हो जाए तो फेसबुक को 25000 डालर का नुकसान हो जाएगा।

√. आपको अजीब लगे मगर फेसबुक कि लत एक बिमारी है जिसे ( facebook adictions disorder) फेसबुक एडिक्सन डिसआर्डर नामक बिमारी कहते है। जिसका संक्षिप्त नाम FAD है जिसकी चपेट मे आने से मनुष्य मे हर पल चिडचिडापन रहता है। दुनिया के करीब 36 करोड लोग इस बिमारी से ग्रसित हैं।

√. yahoo और mtv ने facebook को खरिदना चाहा पर मार्क जुकरबर्ग ने यह कह कर टाल दिया कि अभी इसे और लोकप्रिय बन जाने दो तब बात करेगें।

√. फेसबुक हर महिने 3अरब डालर केवल hosting पर ही खर्च कर देता है।

√. facebook पर हर रोज 6 लाख के करीब हैकर हैक करने के नियत से आते है। 15 Dce.2009 मे फेसबुक ने एक नया privacy setting बनाया जिसमे काफी कुछ बदलाव भी था।

√. facebook को अगर किसी ने हैक कर लिया तो फेसबुक उसे 500 डालर ईनाम स्वरूम भेट करता है। अगर आप फेसबुक कि किसी भी बडी या छोटी गलती को पकड कर बताओगे तब भी आप 500 डालर के ईनाम पात्र होगे। तो देर किस बात कि है ट्राई करो –

√. facebook पर सबसे अधिक फर्जी account बनाने वाले केवल भारतीय (indian) लोग ही है। facebook कि तरफ से जारी एक बयान मे इनकी संख्या का खुलासा भी हुआ । nov.2016 कि माने तो करीब 14.3 करोड account फेक थें। इनमे से सबसे अधिक बनाने वालो मे भारतीय लोग ही थें।

√. मजेदार बात यह भी है कि 2011 मे facebook कि मदद से ही आईसलैण्ड का नया संविधान लिखा गया है। √. facebook का शार्ट नाम fb है और यह भी हैरानी वाली बात है कि आपके लोकेशन के हिसाब से फेसबुक कि notification tab बदलती रहती है।

√. 2009 मे ही facebook ने एक होनहार व्यक्ति को काम देने से मना कर दिया जानते हो फिर क्या हुआ और वह व्यक्ति कौन था ? वह व्यक्ति था watsapp के को फाउन्डर ( brayan actan ) ब्रायन एकटन !

√. फेसबुक पर लोगो को प्यार मुहब्बत के नये – नये किस्से सुनने को भी मिलते है पर साल 2011 मे अमेरिका मे तलाक का सबसे बडा कारण फेसबुक बना जिसके कारण बहुत सी शादियाँ टुट कर बिखर गयी।

√. फेसबुक के सार्वजनिक पेज जैसे कि publice peg को हाल ही के दिनो मे बहुत अधिक ख्यातिया प्राप्त हुई है। पब्लिक पेज बनाने वालो मे अमेरिकी भूत पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा फ्रासिसी राष्ट्रपति निकोला सारकोजी और राँक बैड टू सम्मलित है।

√. 2010 मे पैगम्बर मुहम्मद साहब को आपत्तिजनक कार्टून बना कर प्रस्तुत करने के लिए पाकिस्तान मे facebook को बैन कर दिया गया था

√. facebook profile मे मार्क जुकरबर्ग तक पहुचने के लिए आपको बस फेसबुक के URL मे नम्बर 4 लिख कर सर्च कर दे तो आप डायरेक्ट मार्क जुकरबर्ग के पेज पर पहुत जाएगे।

√. 5% ब्रिटीस सेक्स काल के दौरान भी फेसबुक यूज करते जो फेसबुक को पता चल जाती है।

√. इस समय facebook पर 30 मिलियन के करिब फेसबुक यूजर्स के अकाउट है जो अब इस दुनिया मे नही है । अगर आपके जान पहचान मे भी कोई ऐसी फाईल को छोड गया है तो आप उस अकाउट के बारे मे फेसबुक को बताए फेसबुक उनकी यादो को एक यादगार लम्हा बना कर रखता है।

हम उम्मीद करतें हैं कि facebook के बारे मे कुछ रोचक बातें अच्छी लगी, हमारी हर रोचक जानकारियो अथवा कहानियो के लिए आप हमारे पेज को लाईक करके शेयर करें। हम आप तक हर पल नई रोचक जानकारिया लाते रहेगे।

धन्यवाद !

लेखक – अमित यादव

Sharing is caring!

(Visited 4 times, 1 visits today)

I am professional blogger from up in India. I shared with you all blog, blogging , Computer , Internet , seo related all information. Computer related all Tips and Tricks. I am Part-time blogger . How to make money online without investment and how to do online business in hindi language.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *